Connect with us

Benefits of Abdominal Massage

Health

Benefits of Abdominal Massage

● पेट की मालिश का प्रयोग के चिकित्सकीय गुणों से आज का समाज अभी तक अंजान है। पेट की मालिश करने से जिंदगी सेहतमंद बन सकती है। यह दर्द, तनाव और पेट की खराबी से आराम दिलाता है और शारीरिक तथा मानसिक रूप से फिट हो सकती हैं। पेट की मालिश या मसाज करने से पहले सबसे पहले पीठ के बल जमीन पर लेट जाएं। उसके बाद हाथों में तेल लगाएं और गोलाई में घुमाते हुए मसाज करें। 3 मिनट में 30 से 40 बार गोलाई में मजाज करें।

An Ayurvedic abdominal massage, called Nabhi Abhyanga is a perfect detoxifying treatment.The abdominal area is where the digestive fire governs our metabolism and is vital to our well-being, keeping us young and strong.

पेट की मालिश करने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

1) मोटापा घटाए
पेट की मालिश करने से चयापचय दर बढ़ती है और पाचन को बढ़ावा मिलता है। यह उन लोगों के लिये अच्‍छी हो सकती है जो लोग वेट कम करने की बहुत महनत करते हैं और उन्‍हें किसी भी चीज का कोई फायदा नहीं मिलता।

2) कब्‍ज से छुटकारा
कब्‍ज और पेट के दर्द से छुटकारा मिलता है। पेट की मालिश रोजाना करें। खाना ठीक से हजम न होने की वजह से पेट फूलना और उसमें गैस बनने की समस्‍या होती है। लेकिन पेट की मालिश करने से पेट की गैस आराम से निकल जाती है और अपच भी नहीं होता।

Abdomen Self Massage for Constipation

Benefits of Abdominal Massage :

It assists in weight loss around the stomach area and beautifully detoxifies our body from stagnated toxins. It greatly helps with a range of issues such as: constipation, IBS, obesity, bloating, gases, high cholesterol and an under active thyroid.The abdomen is a very important area and needs specific attention. Massage in this area improves the oxygenated blood supply to organs. This stimulates the liver, gall bladder and pancreas allowing the release of metabolic waste products.

3) पेट दर्द से छुटकारा
पेट में अगर दर्द होता हो तो, मालिश करने से उस जगह का ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है। इससे पेट की मासपेशियों को गर्माहट मिलती है, जिससे आपको आराम मिलेगा।नियमित रूप से पेट की मालिश करने पर आपको कभी भी पेट का कोई रोग नहीं होगा।
How to Do Abdominal Massage

Self Abdominal Massage Tutorial

The abdominal massage ensures full blood circulation to the prostate and prevents swelling and inflammation. Abdominal massage has also shown to help alleviate the need to urinate frequently.The abdomen is an area of the body where vital organs are located. It is the area responsible for digestion, reproduction and elimination. It is the core of the human body and should not be neglected in your massage routine.

4) होती है पतली कमर
पेट पर मसाज करने से वहां की मासपेशियां टोन्‍ड हो जाती हैं। आपकी लटकती हुई कमर कुछ ही दिनों में शेप में आ जाती है। इसके साथ टम्‍मी टाइट बन जाती है। मालिश से तनाव कम होता है और दिमाग पूरी तरह से शांत और रिलैक्‍स हो जाता है। इससे दिमागी सुकून मिलता है
5) पीरियड्स क्रैंप मालिश करते वक्‍त
लौंग, लेवेंडर या दालचीनी का तेल प्रयोग करने से पेडु के दर्द में लाभ मिलेगा।
6) कब नहीं करनी चाहिये पेट की मालिश
अगर आप प्रेगनेंट हैं, किडनी स्‍टोन, गॉलस्‍टोन, पेट में अल्‍सर, प्रजनन अंगों में सूजन या फिर आंतरिक रक्तस्राव हो रहा हो तो मालिश न करें।

abdominal massage for weight loss
abdominal massage video
abdominal massage abortion
abdominal massage techniques
abdominal massage benefits
abdominal massage for constipation

Continue Reading
You may also like...

More in Health

Get best health With Us

Latest Fashion Trends

Beautynama Website Disclaimer
To Top